12th ke baad kya kare। Science, Commerce and Arts

दोस्तों हम सभी लोग अपने जीवन में एक बेहतर करियर पाना चाहते हैं लेकिन एक बेहतर करियर पाने के लिए एक सही दिशा चुनना बहुत जरुरी है क्योंकि एक सही चुनाव ही हमें सफल बना सकता है एक बात का ध्यान रखिये की हमेशा वही करियर चुनिए जिसमें आपकी रूचि हो और आपको उसको पढ़ने में मन लगे तभी तो आप एक सफल इंसान बन सकते हैं।

12th ke baad kya kare
12th ke baad kya kare 

जब बच्चे 12वीं पास कर लेते हैं तो उनके दिमाग में यही सवाल रहता है कि 12th ke baad kya kare, 12th ke baad kya kare Science Student, 12th ke baad kya kare Commerce Student12th ke baad kya kare Arts Student हम आपको इस आर्टिकल में 12th ke baad kya kare? इसकी पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे, तो यदि अपने 12वीं पास कर लिया है और आप अपने आगे की पढाई के बारे में सोच रहे है तो आपको इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने की जरुरत है। 

    12th ke baad kya kare। 12th ke baad Commerce, Arts aur Science me kya kare?

    इंटरमीडिएट में सभी लोग अपने करियर के हिसाब से सब्जेक्ट चुनते हैं यदि आपको इंजीनियर या डॉक्टर बनाना है तो आपको साइंस सब्जेक्ट लेना होगा, लेकिन यदि आपको बैंक या अकाउंटेंट बनाना है, तो आपको कॉमर्स सब्जेक्ट लेना होगा या फिर पॉलिटिक्स या वकील बनाना है तो आपको आर्ट्स सब्जेक्ट 11वीं और 12वीं में लेना होता है, लेकिन आपको 12th पास करने के बाद एक सही ऑप्शन को चुनना चाहिए जिसमें आपका रूचि हो। 

    स्कूल में  11th और 12th पास करने के बाद आपको अपने सब्जेक्ट हिसाब से ही आगे के बारे में सोचना चाहिए जिससे आपको पढ़ने और करियर बनाने में आसानी हो अगर आप आर्ट्स स्टूडेंट हैं, तो आपको आर्ट्स के सब्जेक्ट के हिसाब से ही आगे की पढाई करनी चाहिए या फिर आप कॉमर्स स्टूडेंट हो तो आपको कॉमर्स के हिसाब से स्कूल में सब्जेक्ट लेना चाहिए और यदि अपने 12वीं में साइंस लिया है तो आपको आगे जाकर के इंजीनियर या डॉक्टर लाइन को चुनना होगा।

    12th ke baad kya kare Science Student । 12th Science ke baad kya kare 

    ज्यादातर स्कूलों में साइंस वही बच्चे लेते हैं जिनका 10वीं और 12वीं में अच्छे रिजल्ट आते हैं, तो जो लोग 12वीं का परीक्षा Mathematics और Biology से पास करते हैं, तो वे आगे जाकर के इंजीनियर और डॉक्टर फील्ड को ही चुनते हैं और एक अच्छे इंजीनियर और डॉक्टर भी बनते हैं, लेकिन 12th साइंस से पास करने के बाद कुछ बच्चों यह सवाल रहता है कि 12th ke baad kya kare Science Student तो नीचे कोर्स के बारें में बताया आप 12th साइंस से पास करने के बाद इन कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें हैं। 

    12th ke baad kya kare science student
    12th ke baad kya kare Science Student

    • BE(Bachelor of Engineering)
    • B.Tech(Bachelor of Technology)
    • BBA(Bachelor of Business Administration)
    • BCA(Bachelor of Computer Application)
    • BJMC(Bachelor of Journalism and Mass Communication)
    • B.Sc LLB(Bachelor of Science and Bachelor of Laws)
    • BHM(Bachelor of Hotel Mangement)
    • B.Sc Nursing(Bachelor of Science in Nursing)
    • B.Pharm(Bachelor of Pharmacy)
    • B.Des(Bachelor of Design)
    • B.Sc General(Bachelor of Science General)
    • B.Sc Hons(Bachelor of Science Honors)
    • B.Arch(Bachelor of Architecture)
    • B.Vsc (Bachelor of Veterinary Science)
    • BPT (Bachelor of Physiotherapy)

      12th साइंस के बाद BE करें -

      BE एक Knowledge-Oriented कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Engineering " है यह इंजीनियरिंग के फील्ड का एक बहुत ही प्रसिद्ध प्रोफेशनल डिग्री प्रोग्राम है जो अंडरग्रेजुएट लेवल का कोर्स है यह कोर्स पुरे 4 साल का होता है इसमें कोई एक कोर्स नहीं होता है इसमें स्ट्रीम और स्पेशलाइजेशन चुनने के बहुत सारे ऑप्शन स्टूडेंट को मिलते है यह कोर्स इंजीनियरिंग के बहुत से ब्रांचेस जैसे Electrical, Civil और Mechanical के फंडामेंटल से रेलेटेड होता है। 

      BE Course में आपको Basic Electrical Engineering, Engineering Graphics, Calculus of Linear Algebra, Advanced Calculus, and Numerical Methods, Elements of Mechanical Engineering, Basic Electronics, Engineering Physics, Engineering Chemistry, Environmental Science और C Programming आदि जैसे विषयों के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स को करने के बाद आप अपने स्पेशलाइजेशन के अनुसार आप अपने लिए बेस्ट जॉब प्रोफाइल को चुन सकतें है जैसे Construction Engineer, Landscape Architects, Design Engineer, Assistant Engineers, It System Manager, Technical Trainer, Data Scientist, Mechatronics Engineer, Software Developer, Business Analyst और Software Engineer जैसे पद पर काम कर सकतें है। 

      BE कैंडिडेट को उनके टेक्निकल स्किल्स और नॉलेज के आधार पर सैलरी पैकेज ऑफर किया जाता है एक सॉफ्टवेयर डेवलपर या ग्रेजुएट इंजीनियर के तौर पर मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 3 से 3.5 लाख तक हो सकता है। 

      BE कोर्स नॉलेज ओरिएंटेड होता है जिसमें Thoery बेस्ड स्टडी कराई जाती है और यह ज्यादा Theortical होता है यह कोर्स साइंस के इंजीनियरिंग आस्पेक्ट के साथ डील करता है BE कोर्स साइंस और टेक्नोलॉजी में नवीन उपकरण और उपयोगी तकनीकी गैजेट्स डेवेलप करने से जुड़ा है। 

      12th साइंस के बाद B Tech करें -

      B Tech कोर्स इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स को Theorticl और Practical स्किल बेस्ड ट्रैंनिंग देने वाला अंडरग्रेजुएट लेवल का प्रोफ़ेशनल इंजीनियरिंग प्रोग्राम है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Technology " है जिसे शार्ट में B Tech कहा जाता है जोकि पुरे 4 साल का होता है यह कोर्स Technology-Centric होता है इसलिए इसका ज्यादा फ़ोकस एप्लीकेशन और स्किल बेस्ड स्टडी पर होता है। 

      B Tech Course को करने के लिए आपके पास 12वीं क्लास में साइंस सब्जेक्ट होने चाहिए Physics, Chemistry और Mathematics सब्जेक्ट के साथ और यदि आप चाहें तो 12वीं क्लास में कंप्यूटर साइंस सब्जेक्ट भी चुन सकतें है। B Tech कोर्स कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी का फील्ड है जिसमें Programming और Software Computer की डिटेल स्टडी कराई जाती है B Tech कोर्स का स्कोप जनरल ग्रेजुएशन डिग्री की तूलना में कहीं ज्यादा होता है।

      B Tech कोर्स में इंजीनियरिंग के बहुत ही प्रसिद्ध ब्रांचेस जैसे Mechanical, Computer Science, Electrical और Civil आदि होते है तो यदि आपको Computer Engineer, Mechanical Engineer या Civil Engineer बनना चाहते है तो आप B Tech कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें हैं B Tech कोर्स में कोई एक कोर्स नहीं होता है इसमें बहुत सारे कोर्स होते हैं आप अपने इंट्रेस्ट के अनूसार जिस भी सब्जेक्ट में इंजीनियरिंग करनी है उस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें है।  

      B Tech ग्रेजुएट के लिए टेक्निकल फील्ड में बहुत सारे Opportnities होती है जैसे Computer Science Engineer, Mechanical Engineer, Electrical Engineer, Production Engineer, Ceramic Engineer, Chemical Engineer, Mining Engineer, Automobile Engineer, Robotics Engineer, Elecctronics Engineer, Software Developer, Product Manager, Lecturer, Professor, Civil Engineer और Electronics & Communication Engineer आदि जैसे जॉब प्रोफाइल पर काम कर सकतें है और एक B Tech ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 5 से 10 लाख तक हो सकता है। 

      B Tech एक स्किल और डाटा ओरिएंटेड कोर्स है जोकि ज्यादा प्रैक्टिकल होता है यह कोर्स साइंस के टेक्निकल  आस्पेक्ट के साथ डील करता है B Tech कोर्स इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी के सिद्धांत को अप्लाई करके संरचना को संशोधित करने से रेलेटेड है जिससे Quality को बेहतर बनाया जा सके। 

      B Tech Course Details in Hindi

      12th साइंस के बाद BCA करें -

      BCA प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Computer Application " है यह 3 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जो Informational Technology में करियर शुरू करने के लिए बहुत ही फेमस कोर्स है क्यूंकि IT इंडस्ट्री में BCA ग्रेजुएट की काफी डिमांड होती है इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपके पास 12वीं क्लास में English और Mathematics सब्जेक्ट होना बहुत जरुरी है। 

      ऐसे स्टूडेंट्स जो Computer Language के बारे में जानना चाहते हैं उनके लिए BCA  Course एक बहुत अच्छा ऑप्शन है BCA Course में आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन और कंप्यूटर साइंस से संबंधित चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है इसमें Database Management Systems, Operating Systems, Software Engineering, Web Technology, Programming languages जैसे कि C,C++, Java, HTML इत्यादि के बारे में पढ़ाया जाता है BCA Course को करने के बाद आपको कंप्यूटर फील्ड से संबंधित चीजों के बारे में बेहतर नॉलेज हो जाता है

      इस कोर्स को करने के बाद आपको प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर में बहुत सी Job Opportunities मिल सकेगी BCA ग्रेजुएट System Engineer, Software Developer, Software Tester, Web Developer और Junior Programmer जैसे पद पर काम कर सकतें हैं और एक BCA ग्रेजुएट को मिलने वाली एवरेज सैलरी साल का 3 से 5 लाख तक हो सकता है।

      BCA Course Details in Hindi

      12th साइंस के बाद BBA करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Business Administration " है जोकि पूरे 3 साल का होता है BBA Course एक प्रोफ़ेशनल डिग्री कोर्स कोर्स है जिसमें Principles of Management, Retail Management, Business Law और Business Economics आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है।

      कॉमर्स के ऐसे स्टूडेंट्स जो Commerce, Business, Administration फील्ड में Theoretical और Practical नॉलेज लेना चाहते हैं, तो वे BBA Course को कर सकतें है। 

      BBA Course करने के बाद Corporate Firm और Industrial Organization में Job Opportunities पा सकतें हैं एक BBA स्टूडेंट्स Marketing, Finance, Sales और HR जैसे फील्ड में अप्लाई भी कर सकता है और BBA ग्रेजुएट को मिलने वाली एवरेज सैलरी साल का 3 लाख हो सकता है। 

      BBA Course Details in Hindi

      12th साइंस के बाद BJMC करें -

      जनता तक अपनी बात को किसी भी माध्यम से पहुंचाने के प्रोसेस को मास कम्युनिकेशन कहते हैं पहले जमाने में केवल न्यूज़ पेपर ही हुआ करते थे लोगों तक संदेश पहुंचाने के लिए पर आजकल लोगों तक संदेश पहुंचाने के लिए टीवी चैनल, इंटरनेट का इस्तेमाल किया जाता है तो अगर आप अपना करियर मास कम्युनिकेशन में बनाना चाहते हैं तो आपको 12वीं किसी भी स्ट्रीम से पास चाहिए। 

      BJMC एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका फुल फॉर्म " Bachelor of Journalism and Mass Communication " है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं इस कोर्स में आपको Introduction to Communication, Writing, Television Journalism, Public Relation और Print Journalism आदि जैसे विषयों के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स को करने के बाद आप Desk Writers, Reporters, Editors, Radio Producer, Photo Journalist, Public Relation Officer और Blog Writer जैसे प्रोफाइल पर काम करने के लिए तैयार हो जाते हैं एक BJMC ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 1.5 लाख से 6 लाख तक हो सकता है।

      12th साइंस के बाद BSC LLB करें -

      यह एक बैचलर डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Science and Bachelor of Laws है जोकि पुरे 5 साल का होता है BSC LLB Course में आपको Science और Law संबंधी दो परस्पर विषयों के बारे में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है। 

      BSC LLB Course में आपको Science से सम्बंधित विषय रसायन विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, जैव प्रौद्योगिकी और Law से सम्बंधित विषयों जैसे नागरिक कानून, श्रम कानून, कॉर्पोरेट कानून, कर कानून, आपराधिक कानून, प्रशासनिक कानून जैस विषयों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाता है तो जो लोग BSC LLB Course को करना चाहते हैं वे 12वीं पास करने के बाद इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें हैं। 

      BSC LLB कोर्स को पूरा करने के बाद आप Legal Advisor, Advocate, Criminal Lawyer, Corporate Lawyer, Property Lawyer और Lecturer जैसी जॉब प्रोफाइल के लिए तैयार हो जाते है एक BSC LLB Course को पूरा करने के बाद मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 3 लाख तक हो सकता है। 

      BSC LLB Course Details in hindi

      12th साइंस के बाद BHM करें -

      होटल मैनेजमेंट का मतलब होता है होटल को हर तरह से मैनेज करना यानी होटल में होने वाली हर गतिविधियों को सही तरीके से सही समय पर करने का तरीका सीखना इसमें Hospitlity, Hotel Booking, Event Management, Custmer Service आदि जैसे बहुत सारे काम शामिल होते है यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Hotel Management " है जोकि पुरे 4 साल का होता है। 

      इस कोर्स में आपको Foundation Course in Food and Beverage Service, Foundation Course in Front Office, Hotel Engineering, Nutrition, Cummunication, Food Safty and Quality, Reswarch Methology, Human Resourse Management और Management in Toursim आदि के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Director of Hotel Operation, Manager, House Keeping Manager, Floor supervisor, Guest Service Supervisor, Restaurant & Food Service Manager, Front office Manager, Event Manager, Kitchen Manager और Wedding Co-ordinator आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।  

      12th साइंस के बाद B.Sc Nursing करें -

      B.Sc Nursing एक 4 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Science in Nursing है जिसका उद्देश्य कैंडिडेट को नर्सिंग की नॉलेज प्रोवाइड करना होता है इस कोर्स में स्टूडेंट को बहुत से चिकित्सा पहलू की ट्रेनिंग दिया जाता है और रोगी की देखभाल करना भी सिखाया जाता है। 

      इस कोर्स में आपको Physioology, Biochemistry, Nutrition, Nursing Fundamental, Sociology, Pathology and Genetics, Communication and Educational Technology, Nursing Research and Statistics, child Health Nursing, Psychiatric Nursing और Operation Theatre Technique आदि के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      B.Sc Nursing कोर्स को पूरा करने के बाद आप Nursing Assistant, Junior Psychiatric Nurse, Nursing Assistant Supervisor, Nursing Educator, Home Care Nurses और Nursing Manager आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।  

      BSC Course Details in Hindi

      12th साइंस के बाद B.Pharm करें -

      फार्मेसी ऐसा साइंस है जिसके तहत Medicine से जुड़े Research और टेस्ट किये जाते है हर बार जब किसी बीमारी के लिए इलाज खोजा जाता है तो फार्मेसी ही वो फील्ड है जो उस इलाज के लिए बनाई गयी दवाओं का टेस्ट करता है रिसर्च करता है ताकि उस मेडिसिन के प्रभाव और दुष्प्रभाव को जाना जा सके और उसे इलाज के लिए उपलब्ध कराया जा सके।

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है जिसका पूरा नाम Bachelor of Pharmacy है जोकि पुरे 4 साल का होता है फार्मेसी हेल्थ केयर इंडस्ट्री का बहुत ही महत्वपूर्ण पार्ट होता है यह न केवल मेडिसिन की टेस्टिंग करता है बल्कि मेडिसिन को डेवेलोप करने और मार्केट में सप्लाई करने का काम भी करता है B.Pharm Course थ्योरी के साथ-साथ प्रैक्टिकल कोर्स भी है जिसमें Innovation और Research Work काफी ज्यादा होता है तो ऐसे में स्टूडेंट्स का Madicine और Scientific Research में इंट्रस्ट और समझ होनी चाहिए। 

      इस कोर्स में आपको Biochemistry, Human Anatomyand Physiology, Pharmaceutical Biotechnology और Pharmaceutial Maths Biostatistics, आदि के बारें में जानकारी दिया जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Analytical Chemist, Health Inspector, Pharmacist, Research Officer, Pathological Lab Scientist और Research & Development Executive आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं। 

      12th साइंस के बाद B.Des करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है जिसका पूरा नाम Bachelor of Design है जोकि पुरे 4 साल का होता है इस कोर्स में आपको Fundamentals of Arts and Design, Photography and Videography, Design and Human Evolution Applied Science for Designers, Design और Technology and Innovation आदि के बारें में जानकारी दिया जाता है।

      इस कोर्स में बहुत सारे Specilizations होते हैं जैसे कि Fashion Design, Textile Design, Animation Flim Design, Industrial Design, Graphic Design, Product Design और Visual Communication आदि Specilizations होते हैं आप अपने इंट्रेस्ट के अनुसार किसी भी कोर्स को चुन सकतें हैं और अपनी पढाई पूरी कर सकतें है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Fashion Designer, Graphic Designer, Textile Designer, Product Designer, Industrial Designer,  Art Director आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं। 

      12th साइंस के बाद B.Sc General करें -

      B.Sc General कोर्स को B.Sc Pass Course भी कहते है यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जोकि पुरे 3 साल का होता है B.Sc General का पूरा नाम Bachelor of Science General है यह अंडरग्रेजुएट कोर्स इंडिया के ज्यादातर यूनिवर्सिटी में बहुत सारे सब्जेक्ट के साथ आसानी से मिल जाता है इस कोर्स में साइंस के तीनो सब्जेक्ट को इक्वल कवर किया जाता है। 

      B.Sc General कोर्स में आप PCM या PCB में से कोई एक ऑप्शन को चुन सकतें है यदि अपने 12वीं क्लास साइंस मैथ से पूरा किया है तो आप B.Sc General में PCM ऑप्शन को चुन सकतें है जिसमें आपको Physics, Chemistry और  Mathematics सब्जेक्ट की पढाई करनी होगी और यदि अपने 12वीं क्लास साइंस बायोलॉजी से पूरा किया है तो आप B.Sc General में PCB ऑप्शन को चुन सकतें है जिसमें आपको Physics, Chemistry और Biology सब्जेक्ट की पढाई करनी होगी। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Lecture, Professor, Forest Services, Economist, Biology Researcher, Laboratory Technician, Research Firms, Forensic Crime Research, Research Analyst, Biotechnology Firms, Health Care Providers, Plant Biochemist और Food Institutes आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।

      12th साइंस के बाद B.Sc Honors करें -

      B.Sc Honors कोर्स एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है B.Sc Honors का पूरा नाम Bachelor of Science Honors है जोकि पुरे 3 साल का होता है यह कोर्स स्टूडेंट्स में एडवांस रिसर्च और Theoretical Skills डेवलप करने में हेल्प करता है, तो यदि आप किसी सब्जेक्ट के बारे में गहराई से नॉलेज लेना लेना चाहते हैं, तो आप B.Sc Honors कोर्स कर सकतें है। 

      B.Sc General कोर्स में जहाँ Physics, Chemistry, Mathematics, Biology और Computer Science आदि सब्जेक्ट के Basic Foundation को प्रोवाइड करता है तो वहीं B.Sc Honors कोर्स बहुत से स्पेशलाइजेशन ऑप्शन प्रोवाइड करता है जिसमें आप अपने इंट्रेस्ट के किसी सब्जेक्ट के बारे में गहराई से नॉलेज ले सकतें है। 

      B.Sc Honors कोर्स के कुछ स्पेशलाइजेशन जैसे B.Sc Hons Botany, B.Sc Hons Chemistry, B.Sc Hons Physics, B.Sc Hons Mathematics, B.Sc Hons Microbiology, B.Sc Hons Geology, B.Sc Hons Home Science, B.Sc Hons Agriculture, B.Sc Hons Psychology, B.Sc Hons Biotechnology, B.Sc Hons Computer Science, B.Sc Hons Electronics और B.Sc Hons Geography आदि स्पेशलाइजेशन होते हैं। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Lecture, Professor, Forest Services, Economist, Biology Researcher, Laboratory Technician, Research Firms, Forensic Crime Research, Research Analyst, Biotechnology Firms, Health Care Providers, Plant Biochemist और Food Institutes आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।

      BSC Course Details in Hindi

      12th साइंस के बाद B.Arch करें - 

      दोस्तों Architect ही ऐसे लाइसेंस्ड प्रोफेशनल होते है जिनको बिल्डिंग डिज़ाइन के आर्ट और साइंस के बारें में जानकारी होती है और Architect ही संरचना के लिए कॉन्सेप्ट को डेवलप करते है और उन कॉन्सेप्ट को Images और प्लान्स में बदलते हैं तो यदि आप Architect बनकर बिल्डिंग को डिजाइन करना चाहते है तो आप B.Arch कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें है। 

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है जोकि पुरे 5 साल का होता है और जिसका पूरा नाम Bachelor of Architecture है यह कोर्स ऐसे लाइसेंस्ड और प्रोफेशनल Architect तैयार करने के लिए डिजाइन किया गया है जो प्राइवेट और गवर्नमेंट कंस्ट्रक्शन करने के लिए Authorized होते है। 

      B.Arch कोर्स में बिल्डिंग के मॉडल डिजाइन करने कंस्ट्रक्शन के ब्लू प्रिंट तैयार करने जैसे बहुत सारे कार्य शामिल होते है इस कोर्स में Humanities, Engineering और Esthetics जैसी कई स्ट्रीम भी शामिल है और इस कोर्स में Theory Subject, Studio, Project Work, Practical Traning और Research Traninig भी शामिल है। 

      एक Architect के पास डिग्री के साथ-साथ स्किल्स का होना भी बहुत जरुरी है क्यूंकि यह क्रिएटिविटी का फील्ड है इसलिए Architect बनने के लिए आपके पास समस्या को सुलझाने का कौशल होना चाहिए और आपके पास एडवांस मैथ कॉन्सेप्ट होने चाहिए और Geometry और Physics पर अच्छी कमांड होनी चाहिए आपकी रचनात्मक सोच और डिजाइनिंग स्किल्स भी मजबूत होना बहुत जरुरी है और साथ ही आपको Architectural Rendering, Computer, Aided Design, Computer Processing, Model Making और Revit जैसे ड्राफ्टिंग सॉफ्टवेयर की नॉलेज भी होना चाहिए। 

      एक Architect के पास प्राइवेट और गवर्नमेंट सेक्टर में आगे बढ़ने के बहुत सारे ऑप्शन उपलब्ध है इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Public Work Department, Archacological Department, National Building Organization, Public Service Commission, Department of Railway, House Board, Ministry of Defense और City Department Corporation आदि जैसे संगठन को ज्वाइन कर सकतें हैं।

      12th साइंस के बाद B.Vsc करें -

      दोस्तों अगर आपको जानवरों का देखभाल करना पसंद है और आप साइंस स्ट्रीम में अपना बेहतर करियर भी बनाना चाहते है तो आप पशुचिकित्सक(Veterinary Doctor) बन सकतें है क्यूंकि आज कल लोग पालतू जानवर रखना पसंद करते है और उसका परिवार के सदस्य की तरह देख भाल भी करते है तो यदि आप चाहें तो एक पशुचिकित्सक बनकर घरेलु पालतू जानवर की देखभाल भी कर सकतें है और पशु केंद्र में भी काम कर सकतें है।

      पशुचिकित्सक एक चिकित्सक होता है जो पक्षी और जानवरों के विमारियों का निदान करने के साथ-साथ इलाज भी करता है एक पशुचिकित्सक के पास जानवरों के हेल्थ से जुड़ी स्ट्रांग साइंस बेस नॉलेज होता है जिसके बेस पर जानवरों का इलाज किया जाता है यह कोर्स करने वाले स्टूडेंट्स जानवरों के देखभाल के साथ-साथ उनके Livestock Handling और Scientific Breeding की नॉलेज भी प्राप्त करते हैं। 

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है जोकि पुरे 5.5 साल का होता है जिसका पूरा नाम Bachelor of Veterinary Science है इस कोर्स में 6 महीने का इंटर्नशिप भी शामिल होता है इस कोर्स को करने के लिए आपको 12वीं क्लॉस साइंस स्ट्रीम से पास होने चाहिए Physics, Chemistry और Biology सब्जेक्ट के साथ और आपकी उम्र कम से कम 17 साल की होनी चाहिए। 

      इस कोर्स में आपको Anotomy, Animal Behavior, Animal Husbandry, Cell Biology, Nutritions, Physiology, Genetics, Epidemiology, Pharmacology, Infectious Disease, Pathology, Parasitology और Pubblic Health आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Veterinarian, Surgeon, Researcher, Veterinary Consultant, Veterinary Professor, Veterinary Research Scientist, Pet Breeder और Veterinary Officers आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।

      12th साइंस के बाद BPT करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जोकि पुरे 4.5 साल का होता है और जिसका पूरा नाम Bachelor of Physiotherapy है इस कोर्स को करने के लिए आपको 12वीं क्लॉस साइंस स्ट्रीम से पास होने चाहिए Physics, Chemistry और Biology सब्जेक्ट के साथ और आपकी उम्र कम से कम 17 साल की होनी चाहिए। 

      इस कोर्स में आपको Physiology, Anatomy, Psychology, Sociology, Pharmacology, Exercise Theory, Electrotherapy, Introducation to Treatment, General Mediine, General Surgery और Pathology आदि जैसे सब्जेक्ट के बारें में जानकारी दिया जाता है। इस कोर्स को करने के बाद आप Physiotherapist, Researcher, Lecturer, Home Care Physiotherapist, Sports Physio Rehabilitator, Medical Coding Analyst आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।

      12th ke baad kya kare science student
      12th ke baad kya kare Science Student

      12th ke baad kya kare Commerce Student । 12th Commerce ke baad kya kare

      कॉमर्स एक बेहतर विकल्प है करियर बनाने के लिए अगर आपने इंटरमीडिएट में कॉमर्स लिया है और आप सोच रहें क़ि 12th ke baad kya kare Commerce Student तो आगे जा करके आपके पास बहुत सारे विकल्प है, जोकि नीचे दिए गए हैं आप इनमें से किसी भी कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें हैं। 

      12th ke baad kya kare commerce student
      12th ke baad kya kare commerce student
      • B.Com (Bachelor of Commerce)
      • BBA (Bachelor of Business Administration)
      • BCA (Bachelor of Computer Application)
      • B.Com Hons (Bachelor of Commerce Honours)
      • BJMC (Bachelor of Journalism and Mass Communication)
      • BBI (Bachelor of Banking and Insurance)
      • BBS (Bachelor of Business Studies)
      • BA Economics Hons(Bachelor of Arts Honours in Economics)
      • B.Com LLB (Bachelor of Commerce and Bachelor of Laws)
      • BBA LLB (Bachelor of Business Administration and Bachelor of Laws)
      • BSC Economics Hons(Bachelor of Science Honours in Economics)
      • BMS(Bachelor of Management Studies)
      • CA(Chartered Accountant)
      • CS(Company Secretary)
      • BAF (Bachelor of Accounting Finance)
      • BFA (Bachelor of Fine Arts)

      12th कॉमर्स के बाद B.Com करें -

      B.Com Course का पूरा नाम " Bachelor of Commerce " है जिसे हिंदी में " वाणिज्य स्नातक " कहते हैं यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जोकि पुरे 3 साल का होता है इसे B.Com Pass Course भी कहा जाता है इसमें कॉमर्स और फाइनेंस से रिलेटेड सब्जेक्ट का अध्ययन वस्तार पूर्वक कराया जाता है। इसमें Finance Accounting, Auditing, Banking, General Banking, Insurance, Law, Investment, Investing Management और Taxation आदि के बारे में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है। 

      यह कोर्स ऐसे स्टूडेंट के लिए बेस्ट होता है जो अपना करियर कॉमर्स, एकाउंटिंग, फाइनेंस, बैंकिंग और इन्शुरन्स जैसे फील्ड में बनाना चाहतें हैं और जो स्टूडेंट Chartered Account, Cost Accounting और Company Secretaryship करना चाहते हैं, तो उनके लिए भी यह कोर्स बहुत ही अच्छा ऑप्शन है। 

      B.Com Pass Course को पूरा करने के बाद आप Management, Journalism, Mass Communication, Advertising, Teaching, Law और Design जैसे बहुत सारे करियर ऑप्शन को चुन सकतें हैं और एक B.Com ग्रेजुएट को मिलने वाली सैलरी साल का लगभग 3 लाख तक हो सकता है। 

      B Com Course Details in Hindi

      12th कॉमर्स के बाद BBA करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Business Administration " है जोकि पूरे 3 साल का होता है BBA Course एक प्रोफ़ेशनल डिग्री कोर्स कोर्स है जिसमें Principles of Management, Retail Management, Business Law और Business Economics आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है।

      कॉमर्स के ऐसे स्टूडेंट्स जो Commerce, Business, Administration फील्ड में Theoretical और Practical नॉलेज लेना चाहते हैं, तो वे BBA Course को कर सकतें है। 

      BBA Course करने के बाद Corporate Firm और Industrial Organization में Job Opportunities पा सकतें हैं एक BBA स्टूडेंट्स Marketing, Finance, Sales और HR जैसे फील्ड में अप्लाई भी कर सकता है और BBA ग्रेजुएट को मिलने वाली एवरेज सैलरी साल का 3 लाख हो सकता है। 

      BBA Course Details in Hindi

      12th कॉमर्स के बाद BCA करें -

      BCA प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Computer Application " है यह 3 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जो Informational Technology में करियर शुरू करने के लिए बहुत ही फेमस कोर्स है क्यूंकि IT इंडस्ट्री में BCA ग्रेजुएट की काफी डिमांड होती है इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपके पास 12वीं क्लास में English और Mathematics सब्जेक्ट होना बहुत जरुरी है। 

      ऐसे स्टूडेंट्स जो Computer Language के बारे में जानना चाहते हैं उनके लिए BCA  Course एक बहुत अच्छा ऑप्शन है BCA Course में आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन और कंप्यूटर साइंस से संबंधित चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है इसमें Database Management Systems, Operating Systems, Software Engineering, Web Technology, Programming languages जैसे कि C,C++, Java, HTML इत्यादि के बारे में पढ़ाया जाता है BCA Course को करने के बाद आपको कंप्यूटर फील्ड से संबंधित चीजों के बारे में बेहतर नॉलेज हो जाता है

      इस कोर्स को करने के बाद आपको प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर में बहुत सी Job Opportunities मिल सकेगी BCA ग्रेजुएट System Engineer, Software Developer, Software Tester, Web Developer और Junior Programmer जैसे पद पर काम कर सकतें हैं और एक BCA ग्रेजुएट को मिलने वाली एवरेज सैलरी साल का 3 से 5 लाख तक हो सकता है।

      BCA Course Details in Hindi 

      12th कॉमर्स के बाद B.Com Hons करें -

      B.Com Hons कॉमर्स स्ट्रीम स्टूडेंट्स के लिए बहुत ही प्रशिद्ध कोर्स है यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Commerce Honours " है जोकि पूरे 3 साल का होता है एक B.Com Hons स्टूडेंट्स को Auditing Firm, Accounting, Banks और Insurance Companies में बहुत ज्यादा डिमांड होती है। B.Com Hons कोर्स में आपको Financial Accounting, Business Statistics, Corporate Accounting, Cost Accounting, Financial Management, International Business और Business Communication आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है।

      कॉमर्स के ऐसे स्टूडेंट्स जो Commerce, Accounting, Banking, Finance और Insurance जैसे फील्ड के बारें में जानकारी लेना चाहते हैं, तो वे B.Com Hons Course को कर सकतें है। B.Com Hons से ग्रेजुएट हुए स्टूडेंट्स को Finance, Accounting, HR और Administrative डिपार्टमेंट में जूनियर लेवल पर हायर किया जाता है। 

       B.Com Hons Course को करने के बाद आप Management, Teaching, Advertising, Journalism, Law और Design जैसे फील्ड में करियर बना सकतें है CA और CS करने वाले ज्यादातर स्टूडेंट्स इसी कोर्स को करते हैं B.Com Hons ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का 3 लाख से शुरू होता है। 

      12th कॉमर्स के बाद BJMC करें - 

      जनता तक अपनी बात को किसी भी माध्यम से पहुंचाने के प्रोसेस को मास कम्युनिकेशन कहते हैं पहले जमाने में केवल न्यूज़ पेपर ही हुआ करते थे लोगों तक संदेश पहुंचाने के लिए पर आजकल लोगों तक संदेश पहुंचाने के लिए टीवी चैनल, इंटरनेट का इस्तेमाल किया जाता है तो अगर आप अपना करियर मास कम्युनिकेशन में बनाना चाहते हैं तो आपको 12वीं किसी भी स्ट्रीम से पास चाहिए। 

      BJMC एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका फुल फॉर्म " Bachelor of Journalism and Mass Communication " है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं इस कोर्स में आपको Introduction to Communication, Writing, Television Journalism, Public Relation और Print Journalism आदि जैसे विषयों के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स को करने के बाद आप Desk Writers, Reporters, Editors, Radio Producer, Photo Journalist, Public Relation Officer और Blog Writer जैसे प्रोफाइल पर काम करने के लिए तैयार हो जाते हैं एक BJMC ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 1.5 लाख से 6 लाख तक हो सकता है।

      12th कॉमर्स के बाद BBI करें - 

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Banking & Insurance " है जोकि पुरे 3 साल का होता है BBI कोर्स ऐसे स्टूडेंट के लिए बेस्ट रहता है जो अपना करियर बैंकिंग फील्ड में बनाना चाहते हैं इस कोर्स में आपको Principle of Management, Financial Accounting, Business Law, Management Accounting, Financial Market और Auditing आदि जैसे विषयों के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      BBI कोर्स को करने के बाद आप Banking, Insurance, Finance, Auditing और Accounting Sector में जॉब भी कर सकतें हैं और यदि आप चाहें तो अनुभव के लिए CA और CS जैसे प्रोफ़ेशनल कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं एक BBI से ग्रेजुएट हुए स्टूडेंट को मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का लगभग 3 से 4 लाख तक हो सकता है।  

      12th कॉमर्स के बाद BBS करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका फुल फॉर्म " Bachelor of Business Studies " है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स में आपको बिज़नेस से सम्बंधित चीजों के बारें में अध्ययन कराया जाता है इस कोर्स में आपको Business Communication, Fundamentals of Management, Financial  Accounting और Business Law जैसे विषयों का अध्ययन विस्तार पूर्वक कराया जाता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Business Analyst, Junior Accountant, Business Development Manager, Research Analyst और Finance Manager जैसे जॉब प्रोफाइल पर काम कर सकतें है एक BBS ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 3 से 6 लाख तक मिल सकता है। 

      12th कॉमर्स के बाद BA Economics Hons करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Arts Honours in Economics " है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं BA Economics Honours में आपको Economics Statistics, Economics Theory, Financial System, Financial Markets और Financial Economics के बारें में विस्तार पूर्वक जानकारी दिया जाता है। 

      Economics में बैचलर डिग्री लेने के बाद आप Government Banks, Civil Services, Financial Institute, Business Firm, Manufacturing Firm और Stock Exchange जैसे पोजीशन पर काम कर सकतें है इस कोर्स को करने के बाद मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का लगभग 3 से 4 लाख हो सकता है। 

      12th कॉमर्स के बाद B.Com LLB करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Commerce and Bachelor of Laws है जोकि पुरे 5 साल का होता है यह एक प्रोफेशनल इंटीग्रेटेड कोर्स है B Com LLB Course में आपको Commerce और Law संबंधित दो परस्पर विषयों के बारे में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है।

      B Com LLB Course में आपको Commerce से सम्बंधित विषय Business Statistics, Business Communication, Auditing, Economics और Law से सम्बंधित विषयों जैसे Constitutional Law, Consumer Protection Law, Law of Crimes, Legal Language, Constitutional Law आदि विषयों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाता है तो जो लोग B Com LLB Course को करना चाहते हैं वे 12वीं पास करने के बाद इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें हैं। 

      B.Com LLB कोर्स को पूरा करने के बाद आप Legal Advisor, Advocate, Criminal Lawyer, Corporate Lawyer, Property Lawyer और Lecturer जैसी जॉब प्रोफाइल के लिए तैयार हो जाते है एक B.Com LLB Course को पूरा करने के बाद मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी महीने का 35000 होता है। 

      B Com LLB Course Details in Hindi

      12th कॉमर्स के बाद BBA LLB करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Business Administration and Bachelor of Laws है जोकि पुरे 5 साल का होता है यह एक प्रोफेशनल इंटीग्रेटेड कोर्स है जिसमें आपको व्यवसाय प्रशासन के साथ-साथ कानून से सम्बंधित विषयों का अध्ययन कराया जाता है। 

      BBA LLB Course में आपको कॉमर्स से सम्बंधित विषय जैसे- प्रबंधन के सिद्धांत, वित्तीय लेखांकन, कंप्यूटर अनुप्रयोग, प्रभावी संचार और कानून से सम्बंधित विषयों जैसे- संवैधानिक कानून, संपत्ति कानून, कंपनी कानून, प्रशासनिक कानून, नागरिक कानून, आपराधिक कानून आदि विषयों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाता है तो जो लोग BBA LLB Course को करना चाहते हैं वे 12वीं पास करने के बाद इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकतें हैं। 

      BBA LLB कोर्स को पूरा करने के बाद आप Legal Advisor, Advocate, Criminal Lawyer, Corporate Lawyer, Property Lawyer और Lecturer जैसी जॉब प्रोफाइल के लिए तैयार हो जाते है एक BBA LLB Course को पूरा करने के बाद मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी महीने का 35000 होता है।

      BBA LLB Course Details in Hindi 

      12th कॉमर्स के बाद BSC Economics Hons करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Science Honours in Economics है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं BSC Economics Honours में आपको Theory of Firm, Theory of Production, Functions, Development Economics, Investment, Economics Policy, और International Economics जैसे वषयों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाता है। 

      Economics में बैचलर डिग्री लेने के बाद आप Government Banks, Civil Services, Financial Institute, Business Firm, Manufacturing Firm और Stock Exchange जैसे पोजीशन पर काम कर सकतें है इस कोर्स को करने के बाद मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का लगभग 3 से 4 लाख हो सकता है। 

      12th कॉमर्स के बाद BMS करें -

      BMS का फुल फॉर्म " Bachelor of Management Studies " है यह भी 3 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जो आपको मैनेजमेंट फील्ड के लिए तैयार करेगा जिससे आप बिज़नेस वर्ल्ड में अपने लिए ग्रेट लीडरशिप बना सकेंगे इस कोर्स में आपको Principle of Marketing, Business Accounting, Macro Economics, Management Accounting, Financial Management और Business Research जैसे वषयों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स में Human Resource Management और Economics Business Studies के बारें में गहराई से नॉलेज मिलता है एक BMS ग्रेजुएट को Academic Institutions , Marketing, Sales, Finance, Retail और Consulting जैसी फील्ड में जॉब कर सकता है और एक BMS ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 3 से 4 लाख तक हो सकता है। 

      12th कॉमर्स के बाद CA करें -

      यह एक प्रोफ़ेशनल कोर्स है जिसका फुल फॉर्म " Chartered Accountant " है जोकि 5 साल का होता है जिसमें आपको हिसाब-किताब के बारें में अच्छे से सिखाया जाता है और एक CA स्टूडेंट को Auditing Firms, Banks, Finance Companies, Legal Firms में बहुत ज्यादा डिमांड होती है CA कोर्स में आपको Financial Planning, Accounting, Taxation और Auditing आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तार पूर्वक जानकारी दिया जाता है। 

      CA कोर्स करने के बाद आप Tax Consultant, Auditor, Adviser और Financial Officer जैसे Career Opportunities को ओपन कर सकते हो और एक CA स्टूडेंट को मिलने वाला एवरेज सैलरी लगभग साल का 4 से 6 लाख तक हो सकता है। 

      12th कॉमर्स के बाद CS करें -

      यह एक प्रोफ़ेशनल कोर्स है जिसका फुल फॉर्म " Company Secretary " है जोकि 3 साल का होता है एक Company Secretary किसी भी बिज़नेस के लीगल गतिविधियों के साथ डील करता है और कंपनी के टैक्स रिटर्न को पूरा करने, रिकार्ड्स को रखने, निर्देशक को सलाह देने के लिए उत्तरदाई होता है और कंपनी नियम के अनुशार चले इसकी जिम्मेदारी भी Company Secretary की ही होती है। 

      Company Secretary फाउंडेशन कोर्स में आपको Business Environment, Management, Entrepreneurship, Communication, Ethics, Economics और Accounting आदि जैसे वषयों के बारें में अध्ययन करना होता है। CS कोर्स करने के बाद आप Company Registrar, Legal Advisor, Principle Secretary, Corporate Planner, Managing Director और Contents Coordinator आदि जैसे जॉब प्रोफाइल पर काम कर सकते हो और एक CS स्टूडेंट को मिलने वाला एवरेज सैलरी लगभग महीने का 28000 से 40000 हज़ार तक हो सकता है। 

      इंडिया में The Institute of Company Secretaries of India यानी की ICSI वह मान्यता प्राप्त प्रोफ़ेशनल बोर्ड है जो Company Secretary के प्रोफेशन को डेवेलोप और रेगुलेट करती है ICSI लाखों उम्मीदवार को ट्रैंनिंग और एजुकेशन प्रोवाइड कराता है ICSI Institute के द्वारा कंडक्ट किया जाने वाला ICSI CS परीक्षा एक राष्ट्र्ये लेवल पर होता है जो CS सर्टिफिकेशन के लिए कंडक्ट किया जाता है। 

      12th कॉमर्स के बाद BFA करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Fine Arts " है जोकि 3 से 4 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं इस कोर्स में Panting, Music, Digital Arts, Graphic Designing, Photography और Textile Design आदि जैसे बहुत सारे Specialization होते आपको अपने इंट्रेस्ट के अनुसार किसी भी एक Specialization को चुनना होता है और उसी से सम्बंधित चीजों के बारें में विस्तृत अध्ययन करना होता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप जिस भी Specialization से अपनी पढाई पूरा किये हुए रहते है उस क्षेत्र में अपना करियर बना सकतें है आप Musician, Photographer, Art Teacher, Graphic Designer और Actor जैसे करियर ऑप्शन को चुन सकतें है इस कोर्स पूरा करने के बाद मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का 3 से 6 लाख तक हो सकता है। 

      12th कॉमर्स के बाद BAF करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of  Accounting & Finance " है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स में Finance Accounting, Business Communication, Taxation, Economics और Information Technology आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तृत अध्ययन करना होता है।

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Finance Consultant, Accounting Analyst, Accounts Assistant, Marketing Manager और Research Analyst जैसे जॉब प्रोफाइल पर काम कर सकते है इस कोर्स को पूरा करने के बाद मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का 2 से 6 लाख तक हो सकता है। 

      12th ke baad kya kare commerce student
      12th ke baad kya kare commerce student

      12th ke baad kya kare Arts Student । 12th Arts ke baad kya kare

      हम सब जानते हैं कि 10वीं कक्षा तक सभी का समान सब्जेक्ट होता है, लेकिन जो स्टूडेंट आर्ट्स सब्जेक्ट के साथ 12वीं की परीक्षा पास किए हुए रहते हैं और वे सोचते हैं 12th ke baad kya kare Arts Student तो उनके पास बहुत से करियर ऑप्शन होते हैं जिसमें वे अपना करियर बना सकते हैं।

      12th ke baad kya kare arts student
      12th ke baad kya kare Arts Student

      • BBA (Bachelor of Business Administration)
      • BCA (Bachelor of Computer Application)
      • BJMC (Bachelor of Journalism and Mass Communication)
      • BFA (Bachelor of Fine Arts)
      • BA LLB (Bachelor of Arts and Bachelor of Laws)
      • BBS (Bachelor of Business Studies)
      • BA Economics Hons(Bachelor of Arts Honours in Economics
      • B.Des (Bachelor of Design)
      • BHM (Bachelor of Hotel Management)
      • BA(Bachelor of Arts)

      12th आर्ट्स के बाद BBA करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Business Administration है जोकि पूरे 3 साल का होता है BBA Course एक प्रोफ़ेशनल डिग्री कोर्स कोर्स है जिसमें Principles of Management, Retail Management, Business Law और Business Economics आदि जैसे विषयों के बारें में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है।

      कॉमर्स के ऐसे स्टूडेंट्स जो Commerce, Business, Administration फील्ड में Theoretical और Practical नॉलेज लेना चाहते हैं, तो वे BBA Course को कर सकतें है। 

      BBA Course करने के बाद Corporate Firm और Industrial Organization में Job Opportunities पा सकतें हैं एक BBA स्टूडेंट्स Marketing, Finance, Sales और HR जैसे फील्ड में अप्लाई भी कर सकता है और BBA ग्रेजुएट को मिलने वाली एवरेज सैलरी साल का 3 लाख हो सकता है। 

      BBA Course Details in Hindi

      12th आर्ट्स के बाद BCA करें -

      BCA प्रोफेशनल डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Computer Application " है यह 3 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जो Informational Technology में करियर शुरू करने के लिए बहुत ही फेमस कोर्स है क्यूंकि IT इंडस्ट्री में BCA ग्रेजुएट की काफी डिमांड होती है इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपके पास 12वीं क्लास में साइंस सब्जेक्ट होना बहुत जरुरी है।

      कुछ स्टूडेंट है ऐसे भी होते हैं जो 12वीं में आर्ट्स स्ट्रीम से अपनी पढाई पूरी किये होते है लेकिन उनके पास भी बहुत अच्छी टेक्निकल स्किल है कि वह अपना आगे का कैरियर कंप्यूटर फील्ड में बना सके तो बहुत सारी ऐसी भी यूनिवर्सिटी है जो आर्ट्स स्ट्रीम के स्टूडेंट को भी बीसीए करने का मौका देती है और वह स्टूडेंट जो चाहते हैं कि कंप्यूटर फील्ड में अपना एक बेहतर करियर बना सके तो ऐसी बहुत सारी यूनिवर्सिटी है जो आर्ट्स के स्टूडेंट को भी BCA Course करने का मौका देती है।

      ऐसे स्टूडेंट्स जो Computer Language के बारे में जानना चाहते हैं उनके लिए BCA  Course एक बहुत अच्छा ऑप्शन है BCA Course में आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन और कंप्यूटर साइंस से संबंधित चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है इसमें Database Management Systems, Operating Systems, Software Engineering, Web Technology, Programming languages जैसे कि C,C++, Java, HTML इत्यादि के बारे में पढ़ाया जाता है BCA Course को करने के बाद आपको कंप्यूटर फील्ड से संबंधित चीजों के बारे में बेहतर नॉलेज हो जाता है 

      इस कोर्स को करने के बाद आपको प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर में बहुत सी Job Opportunities मिल सकेगी BCA ग्रेजुएट System Engineer, Software Developer, Software Tester, Web Developer और Junior Programmer जैसे पद पर काम कर सकतें हैं और एक BCA ग्रेजुएट को मिलने वाली एवरेज सैलरी साल का 3 से 5 लाख तक हो सकता है। 

      BCA Course Details in Hindi

      12th आर्ट्स के बाद BJMC करें -

      जनता तक अपनी बात को किसी भी माध्यम से पहुंचाने के प्रोसेस को मास कम्युनिकेशन कहते हैं पहले जमाने में केवल न्यूज़ पेपर ही हुआ करते थे लोगों तक संदेश पहुंचाने के लिए पर आजकल लोगों तक संदेश पहुंचाने के लिए टीवी चैनल, इंटरनेट का इस्तेमाल किया जाता है तो अगर आप अपना करियर मास कम्युनिकेशन में बनाना चाहते हैं तो आपको 12वीं किसी भी स्ट्रीम से पास चाहिए। 

      BJMC एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका फुल फॉर्म Bachelor of Journalism and Mass Communication है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं इस कोर्स में आपको Introduction to Communication, Writing, Television Journalism, Public Relation और Print Journalism आदि जैसे विषयों के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स को करने के बाद आप Desk Writers, Reporters, Editors, Radio Producer, Photo Journalist, Public Relation Officer और Blog Writer जैसे प्रोफाइल पर काम करने के लिए तैयार हो जाते हैं एक BJMC ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 1.5 लाख से 6 लाख तक हो सकता है।

      12th आर्ट्स के बाद BFA करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Fine Arts है जोकि 3 से 4 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं इस कोर्स में Panting, Music, Digital Arts, Graphic Designing, Photography और Textile Design आदि जैसे बहुत सारे Specialization होते आपको अपने इंट्रेस्ट के अनुसार किसी भी एक Specialization को चुनना होता है और उसी से सम्बंधित चीजों के बारें में विस्तृत अध्ययन करना होता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप जिस भी Specialization से अपनी पढाई पूरा किये हुए रहते है उस क्षेत्र में अपना करियर बना सकतें है आप Musician, Photographer, Art Teacher, Graphic Designer और Actor जैसे करियर ऑप्शन को चुन सकतें है इस कोर्स पूरा करने के बाद मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का 3 से 6 लाख तक हो सकता है। 

      12th आर्ट्स के बाद BA LL.B करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Arts and Bachelor of Laws है जो कि पूरे 5 साल का होता है BA LLB Course में आपको Arts और Law संबंधी दो परस्पर विषयों के बारे में विस्तृत अध्ययन कराया जाता है। BA LLB Course में आपको 3 साल तक BA से संबंधित विषय पढ़ाया जाता है और 2 साल में LLB से संबंधित विषय का अध्ययन करना होता है। 

      इसमें आपको आर्ट से संबंधित सब्जेक्ट समाजशास्त्र, अर्थशास्त्र, राजनीतिक विज्ञान और कानून से संबंधित विषयों जैसे संवैधानिक कानून, बौद्धिक संपदा कानून, सर्वजनिक अंतरराष्ट्रीय कानून जैसे विषयों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाता है तो जो लोग BA LLB Course को करना चाहते हैं वे 12वीं पास करने के बाद इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं

      BA LLB कोर्स को पूरा करने के बाद आप Legal Advisor, Advocate, Criminal Lawyer, Corporate Lawyer, Property Lawyer और Lecturer जैसी जॉब प्रोफाइल के लिए तैयार हो जाते है।

      BA LLB Course Details in Hindi

      12th आर्ट्स के बाद BBS करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका फुल फॉर्म Bachelor of Business Studies है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स में आपको बिज़नेस से सम्बंधित चीजों के बारें में अध्ययन कराया जाता है इस कोर्स में आपको Business Communication, Fundamentals of Management, Financial  Accounting और Business Law जैसे विषयों का अध्ययन विस्तार पूर्वक कराया जाता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Business Analyst, Junior Accountant, Business Development Manager, Research Analyst और Finance Manager जैसे जॉब प्रोफाइल पर काम कर सकतें है एक BBS ग्रेजुएट को मिलने वाला एवरेज स्टार्टिंग सैलरी साल का 3 से 6 लाख तक मिल सकता है।

      12th आर्ट्स के बाद BA Economics Hons करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम Bachelor of Arts Honours in Economics है जोकि पुरे 3 साल का होता है इस कोर्स को आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट इस कोर्स को कर सकते हैं BA Economics Honours में आपको Economics Statistics, Economics Theory, Financial System, Financial Markets और Financial Economics के बारें में विस्तार पूर्वक जानकारी दिया जाता है। 

      Economics में बैचलर डिग्री लेने के बाद आप Government Banks, Civil Services, Financial Institute, Business Firm, Manufacturing Firm और Stock Exchange जैसे पोजीशन पर काम कर सकतें है इस कोर्स को करने के बाद मिलने वाला एवरेज सैलरी साल का लगभग 3 से 4 लाख हो सकता है। 

      12th आर्ट्स के बाद B.Des करें -

      यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है जिसका पूरा नाम Bachelor of Design है जोकि पुरे 4 साल का होता है इस कोर्स में आपको Fundamentals of Arts and Design, Photography and Videography, Design and Human Evolution Applied Science for Designers, Design और Technology and Innovation आदि के बारें में जानकारी दिया जाता है।

      इस कोर्स में बहुत सारे Specilizations होते हैं जैसे कि Fashion Design, Textile Design, Animation Flim Design, Industrial Design, Graphic Design, Product Design और Visual Communication आदि Specilizations होते हैं आप अपने इंट्रेस्ट के अनुसार किसी भी कोर्स को चुन सकतें हैं और अपनी पढाई पूरी कर सकतें है। 

       इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Fashion Designer, Graphic Designer, Textile Designer, Product Designer, Industrial Designer, Art Director आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं। 

      12th आर्ट्स के बाद BHM करें -

      होटल मैनेजमेंट का मतलब होता है होटल को हर तरह से मैनेज करना यानी होटल में होने वाली हर गतिविधियों को सही तरीके से सही समय पर करने का तरीका सीखना इसमें Hospitlity, Hotel Booking, Event Management, Custmer Service आदि जैसे बहुत सारे काम शामिल होते है यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम " Bachelor of Hotel Management " है जोकि पुरे 4 साल का होता है। 

      इस कोर्स में आपको Foundation Course in Food and Beverage Service, Foundation Course in Front Office, Hotel Engineering, Nutrition, Cummunication, Food Safty and Quality, Reswarch Methology, Human Resourse Management और Management in Toursim आदि के बारें में जानकारी दिया जाता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Director of Hotel Operation, Manager, House Keeping Manager, Floor supervisor, Guest Service Supervisor, Restaurant & Food Service Manager, Front office Manager, Event Manager, Kitchen Manager और Wedding Co-ordinator आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।  

      12th आर्ट्स के बाद BA करें -

      BA का पूरा नाम " Bachelor of Arts" है जिसे हिंदी में " कला स्नातक " कहते हैं जो स्टूडेंट 12वीं आर्ट्स सब्जेक्ट से पास किये हुए रहते हैं, तो वे 12वीं के बाद Ba Course को ही करते हैं यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है, जोकि 3 साल का होता है 12वीं किसी भी स्ट्रीम से पास करने के बाद आप इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं Ba Course को प्राइवेट या रेगुलर दोनों तरीकों से आप कर सकते हैं।

      बीए कोर्स को दो तरह से किया जाता है
      Ba Programme

      जो स्टूडेंट Ba Programme का कोर्स करता है, तो वह अपने इंटरेस्ट के हिसाब से किसी भी एक सब्जेक्ट में उसे गहराई से नॉलेज नहीं हो पाता है क्योंकि जब हम Ba Programme Course को करते हैं तब हमें लगभग 2 से 3 सब्जेक्ट Ba Programme Course में पढ़ने होते हैं। इसलिए आपको किसी भी एक सब्जेक्ट में उतनी गहराई से नॉलेज नही हो पाती है। 

      Ba Programme कोर्स में आपको Anthropology, Philosophy, Archaeology, Psychology, Education, Sociology, Economic, French, English, German और History आदि सब्जेक्ट के बारें अध्ययन कराया जाता है। 

      जो स्टूडेंट Ba Honours कोर्स को करते हैं उन्हें अपने इंटरेस्ट के हिसाब से किसी भी एक सब्जेक्ट में गहराई से नॉलेज  हो जाता है क्योंकि Ba Honours में हमें अपने इंट्रेस्ट के अनुसार किसी भी एक सब्जेक्ट को लेना होता है। Ba Honours में हमारे पास कुछ साइड सब्जेक्ट होते हैं लेकिन साइड सब्जेक्ट वही सब्जेक्ट दिए जाते हैं जो सब्जेक्ट हम Ba Honours में चुनते हैं उसी से संबंधित होते हैं। 

      Ba Honours कोर्स में आपको BA History, BA in Political Science, BA Education, BA in Computer Science, BA Geography, BA English, BA Sociology, BA Hindi, BA Philosophy, BA Economic, BA Psychology, BA Yoga, BA Public Administration और BA Language आदि Specialisations के बारें में अध्ययन कराया जाता है। 

      इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप Advertising, Civil Services, Law, Professional Writing, Broadcast, Graphic and Painting, Public Administration, Journalism, Education Institutes और  Social Work आदि जैसे जॉब प्रोफाइल्स पर काम कर सकतें हैं।  

      BA Course Details in Hindi

      Ba Programmeऔर Ba Honoursदोनों ही ग्रेजुएशन कोर्स है बस फर्क इतना है कि Ba Honours करने से आप किसी भी एक सब्जेक्ट का गहराई से नॉलेज हो जाता है,लेकिन जब आप Ba Programme करते हैं तो आपको किसी भी एक सब्जेक्ट का गहराई से नॉलेज नहीं हो पाता है Ba Programme Course 3साल का होता है, जबकि Ba Honours Course 4साल का होता है।

      12th ke baad kya kare arts student
      12th ke baad kya kare Arts Student

      Conclusion -

      दोस्तों इस आर्टिकल्स में अपने यह जाना की 12th ke baad kya kare, 12th ke baad kya kare Science Student, 12th ke baad kya kare Commerce Student12th ke baad kya kare Arts Student हमने इस आर्टिकल में आपको पूरी जानकारी देने की कोशिश है, लेकिन अगर आपको कोई कोई ऐसी कमी दिखे जिसे हमने मेंशन न किये हों पर करना चाहिए था तो आप कमेंट सेक्शन में अपना सुझाव दे सकतें हैं। 

      धन्यवाद!

      टिप्पणियाँ

      1. आपने बहुत ही अच्छी जानकारी दी है मेरा भी एक blog है www.finoin.com जिसमे Share market and Mutual funds Investment की जानकारी प्रदान किया जाता है...
        तो please आप मेरे blog finoin.Com के लिए एक Backlink प्रदान करें...
        आपका धन्यवाद...

        जवाब देंहटाएं
      2. यह एक अच्छी जानकारी है-- https://campuscontinents.com/

        जवाब देंहटाएं

      संपर्क फ़ॉर्म

      भेजें